Editor@political play India

Search
Close this search box.

भारत-बांग्लादेश सीमा पर बढ़ रही घुसपैठ, बीएसएफ ने 744 घुसपैठियों को पकड़ा, इनमें 112 रोहिंग्या

भारत-बांग्लादेश सीमा पर बढ़ रही घुसपैठ, बीएसएफ ने 744 घुसपैठियों को पकड़ा, इनमें 112 रोहिंग्या

भारत-बांग्लादेश सीमा पर कितने बड़े पैमाने पर घुसपैठ हो रही है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि साल 2023 में बीएसएफ ने 744 घुसपैठियों को गिरफ्तार किया। इनमें से 112 रोहिंग्या शामिल हैं।

ये सभी लोग गैरकानूनी तरीके से भारत की सीमा में प्रवेश की कोशिश कर रहे थे। बीते साल का यह सबसे बड़ा आंकड़ा है। इससे पहले साल 2022 में बीएसएफ ने 369 और साल 2021 में 208 घुसपैठियों को गिरफ्तार किया था।

बीते तीन साल में तेजी से बढ़ी घुसपैठ
बीएसएफ ने घुसपैठियों के साथ ही बड़ी संख्या में प्रतिबंधित सामान जैसे प्रतिबंधित कफ सिरप, गांजा, याबा टैबलेट और ब्राउन शुगर आदि भी बरामद किए। इनकी कीमत करीब 41 करोड़ रुपये है।

साथ ही साल 2023 में भारत बांग्लादेश सीमा पर चार किलो सोना भी बरामद किया गया है। बीएसएफ ने बताया कि ‘साल 2023 में बीएसएफ ने 744 घुसपैठियों को गिरफ्तार किया। इनमें से 112 रोहिंग्या, 337 बांग्लादेशी और 295 भारतीय शामिल हैं। बीते तीन साल में यह बीएसएफ द्वारा गिरफ्तार घुसपैठियों की सबसे बड़ी संख्या है।’

बिहार के किशनगंज जिला से सटे भारत-बांगलादेश बॉर्डर पर घुसपैठ की कोशिश को बीएसएफ के जवानों ने नाकाम कर दिया है. हालांकि तस्करों द्वारा की गई फायरिंग में एक जवान को भी गोली लगी है. घटना हेड क्वार्टर के अधीन 152 वीं बटालियन ने जिले से सटे पश्चिम बंगाल के उत्तर दिनाजपुर जिले में भारत-बांग्लादेश सीमा पर ये कार्रवाई की.

152 बटालियन बीएसएफ के बीओपी टीनगांव के ड्यूटी सतर्क सीमा प्रहरियों ने देखा कि तीन-चार संदिग्ध अज्ञात लोग माथे पर कुछ सामान लेकर पीएस गोलपुकर के तहत भारतीय सीमावर्ती गांव ग्वालिन से भारत-बांग्लादेश सीमा बाड़ की ओर आ रहे हैं. जैसे ही बीएसएफ के सीमा प्रहरियों ने उन्हें चुनौती दी, उन्होंने माथे पर रखा सामान गिरा दिया और आसपास के क्षेत्र के मक्का के खेत में भागने लगे. बीएसएफ के सीमा प्रहरियों ने तुरंत उनका पीछा किया. इस दौरान बीएसएफ के एक जवान मुकेश चंद शर्मा ने उनमें से एक व्यक्ति को सफलतापूर्वक पकड़ लिया.

उनमें से बाकी अंधेरे और ऊंचे मक्के की फसल का फायदा उठाकर भाग निकले. पकड़े गए व्यक्ति ने बीएसएफ के जवान मुकेश चंद शर्मा, जो कि उस व्यक्ति को पकड़ रखा था पर अपनी देसी पिस्तौल से फायरिंग की. इसी दौरान जवाबी कार्रवाई में बीएसएफ के एक अन्य जवान ने भी अपनी सर्विस रायफल से हवा में फायर किया. गोलीबारी की घटना में बीएसएफ के जवान मुकेश चंद शर्मा के पेट के बाईं ओर गोली लगी है. उसे तुरंत सब डिवीजन अस्पताल इस्लामपुर ले जाया गया और वहां भर्ती कराया गया है.

पकड़े गए व्यक्ति ने खुलासा किया कि वह और अन्य सभी बांग्लादेशी है और बांग्लादेश में फेंसेडिल की उच्च मांग के कारण तस्करी के लिए फेंसेडिल की खेप प्राप्त करने के लिए अवैध रूप से भारतीय क्षेत्र में प्रवेश किया था. जब वो अपनी खेप प्राप्त करने के बाद बांग्लादेश की ओर जा रहे थे, तभी अचानक बीएसएफ के सीमा प्रहरियों ने उन्हें देख लिया और यह घटना हुई. पकड़े गए बांग्लादेशी तस्कर ने अपनी पहचान मो. सुमन (20 वर्ष), पुत्र मो. अख्तर, गांव-मरधर, थाना-हरिपुर, जिला-ठाकुरगांव (बांग्लादेश) के रूप में बताया है.

बीएसएफ ने फेंसेडिल की 326 बोतलें, 01 देशी पिस्तौल, 02 सिम के साथ 01 मोबाइल (01 एयरटेल और 01 ग्रामीण फोन), 50 बांग्लादेश टका और 200 रुपये भारतीय मुद्रा बरामद किया गया है. पकड़े गये बांग्लादेशी तस्कर को बरामद सामान समेत थाने गोलपोखर को सौंपा जा रहा है.

politicalplay
Author: politicalplay

यह भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज